अंडा उत्पादन केंद्र पर जमकर बवाल, आधा दर्जन घायल, कोतवाल बोले, नोटिस जारी कर होगी कुर्की

हैचरी के खिलाफ नोटिस जारी कर  होगी कुर्की: कोतवाल


दवा छिड़काव के कारण मक्खियों के आतंक से मच्छरदानी में भोजन करते हैं ग्रामीण  

जनसंदेश न्यूज़
सैदपुर/गाजीपुर। क्षेत्र के सिधरा स्थित मातृभूमि अंडा उत्पादन केंद्र से गांवों में मक्खियों के आतंक के चलते केंद्र कर्मियों से गांव वालों में जमकर मारपीट के साथ बवाल हो गया। ग्रामीणों ने हैचरी में तोड़फोड़ के साथ ही सभी सामानों को तोड़ फोड़ दिए। इसके बाद उन्होंने केंद्र की दीवार तोड़ते हुए सिधरा-गैबीपुर मार्ग को जाम कर दिया। सूचना मिलते ही एसडीएम, सीओ पूरी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। अधिकारियों के घंटों समझाने के बाद भी ग्रामीणों पर कोई असर नहीं हुआ। करीब 6 घंटे बाद वह अपने घर गए।


क्षेत्र के सिधरा में काफी समय से एक हैचरी यानी अंडा उत्पादन केंद्र खुला है। जिसमें मुर्गियों से अंडा निकालकर बेचा जाता है। उक्त केंद्र पर समुचित दवाईयों का छिड़काव न होने के चलते सिधरा सहित मैनपुर, गैबीपुर, नेवादा, ताजपुर मोलना आदि गांव में मक्खियों का आतंक इस कदर हो चुका है कि लोगों को खाना भी मच्छरदानी के अंदर बनाना व खाना पड़ता है। इस समस्या को लेकर शनिवार को गांव के कुछ युवक हैचरी पर पहुंचे और इस बात की पुनः शिकायत की। 


जिस पर अंदर मौजूद केंद्र कर्मियों ने कहा कि मक्खी खाकर मर जाओ, हमें जो दवा छिड़कना होगा, वहीं छिड़केंगे। इस पर युवकों की उन कर्मियों से बहस हो गई तो कर्मियों ने गैबीपुर स्थित कुछ लोगों को वहां बुला लिया। वहां पहुंचे दबंग लाठी डंडा लेकर उन पर पिल पड़े। जिसमें आधा दर्जन लोग घायल हो गए। वहीं गंभीर रूप से गांव निवासी अरूण 22 पुत्र रामप्रसाद व राहुल घायल हो गए।


इधर वहां से भागने के चक्कर में अनमोल 18 पुत्र जितेंद्र राम खेत में फंस गया।  जिसके बाद मनबढ़ों ने उसे पीट-पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। यह देख वहां गांव की महिलाएं जुट गईं तो उन्होंने उन पर भी लाठी डंडा चलाया, जिसमें मनोरमा देवी 55 पत्नी बलिराम समेत कुछ अन्य महिलाएं भी घायल हो गईं। घटना में शामिल सभी कर्मी अंदर ही बने एक बाथरूम में छिप गए। 


घटना की जानकारी मिलते ही पूरे गांव के लोग जुट गए और उन युवकों की तलाश करते हुए अंदर घुसे और हैचरी में तोड़फोड़ करते हुए अंदर टीवी, कम्प्यूटर, फ्रीज, प्रिंटर, कैश रीडिंग मशीन, गोदरेज आलमारी, बाइक, पंखा समेत सीसीटीवी का कैमरा, डीवीआर को तोड़कर चूर कर दिया। उसी कमरे के बगल में बने बाथरूम में छिपे 5 युवकों को बाहर निकालने के लिए लोहे का गेट भी तोड़ने लगे। लेकिन युवक बाहर नहीं निकले। इसके बाद उन्होंने दीवार आदि भी तोड़ते हुए सिधरा-गैबीपुर मार्ग को जाम कर दिया। कोतवाल रविंद्र भूषण मौर्य ने बताया कि उक्त हैचरी के खिलाफ संबंधित धारा में नोटिस जारी कर दी गई है और सिर्फ 5 दिनों में उसकी कुर्की हो जाएगी।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल