‘अलादीन: नाम तो सुना होग’ में लीप और पुर्नजन्म के बाद हुई काजल जैन की एंट्री



जनसंदेश न्यूज़
इंदौर। सोनी सब का शो ‘अलादीन: नाम तो सुना होगा’ लीप और पुर्नजन्म के बाद दर्शकों के लिए और अधिक मस्ती और रोमांच लेकर आया है। अलादीन (सिद्धार्थ निगम) और यास्मीन (आशी सिंह) बगदाद लौट आए हैं, लेकिन उनके लिए सब कुछ नया है क्योंकि वह अपनी बीती जिंदगी से पूरी तरह से अनजान है। कोयल (शिवानी बडोनी) और शिफैन (अमित रघुवंशी) की एंट्री के साथ, चीजें और भी ज्यादा चुनौतीपूर्ण और मजेदार मोड़ ले रही हैं।


अलादीन के साथ यास्मीन, शिफैन और कोयल साथ में रुखसार (स्मिता बंसल) के अंडर में ट्रेनिंग करना चाहते हैं। वह उन सभी को एक चुनौती देती हैं। जीतने वाली टीम को अंततरू रुखसार के अंडर में रहकर सभी जादूई पैतरों को सीखने के लिए चुना जाएगा। इन्?हें दो टीमों में बांटा गया है और ये चारों अपना पहला टास्क करने और उड़ने वाले रहस्यमयी लालटेन को खोजने के लिए बिलकुल तैयार है। हालांकि, यह उन सबके लिए बिलकुल भी आसान नहीं होने वाला है क्योंकि लालटेन की सुरक्षा मेहजबीन कर रही है। इस किरदार को निभाया है खूबसूरत काजल जैन ने। मेहजबीन एक परेशान आत्मा है, जो पेंटिंग में कैद थी और अलादीन की गलती से जीवित हो जाती है। वह उन लोगों के लिए उड़न लालटेन को हासिल करना और भी ज्यादा मुश्किल बना देगी, जब तक कि उसकी पहली मांग पूरी नहीं कर दी जाती है। 



मेहजबीन की क्या मांग होगी? यह चुनौती कौन जीतेगा - अलादीन- कोयल या यास्मीन-शिफैन?
मेहजबीन के रूप में एंट्री कर रहीं काजल जैन ने कहा कि मैं अलादीनरू नाम तो सुना होगा का हिस्सा बनकर बहुत खुश हूं। मुझे मेहजबीन का किरदार निभाने में बहुत मजा आ रहा  है, क्योंकि यह एक काल्पनिक किरदार है और ऐसी बहुत सारी चीजें हैं, जो उस किरदार को जिंदा करती हैं। उसका लुक बहुत ही विस्तृत है और जब मैं इस लुक में आती हूं तो पूरी तरह से इस किरदार को महसूस करती हूं। पूरी कास्ट बहुत ही ऊजार्वान है और उनके काम के प्रति समर्पित है, जो आपको सेट पर प्रेरित महसूस कराता है। मुझे उम्मीद है कि जितना मजा मुझे इस किरदार को निभाने में आया है, दर्शकों को भी इसे देखने में उतना ही मजा आयेगा। 


रुखसार की भूमिका निभाने वाली, स्मिता बंसल ने कहा, रुखसार अलादीन को ट्रेनिंग नहीं देना चाहती है और इसलिए वह उसकी ट्रेनिंग में देरी कर रही है। उसने चारों के सामने एक प्रतियोगिता रखी, कई सारे टास्क की सीरीज के साथ,जिसमें जीतने वाली टीम को उसके अंडर में रहकर कुछ बेहतरीन पैतरों को सीखने के लिए चुना जाएगा। दर्शकों के लिए यह देखना वाकई दिलचस्प होगा कि कैसे दो टीमें कई मुश्किलें और अप्रत्याशित स्तिथियों से गुजरती हैं। अलादीन और यास्मीन के बीच ये होड़ दर्शकों का मनोरंजन जरूर करेंगी क्योंकि वो दोनों यह चुनौती जीतने के लिए एक-दूसरे के खिलाफ प्रतिस्पर्धा करेंगे।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल