आजमगढ़ में आपरेशन क्लीन: 36 घंटे में तीसरी मुठभेड़, इनामियां शातिर हुआ गिरफ्तार, पैर में लगी गोली



जनसंदेश न्यूज़
आजमगढ़। जनपद से अपराधियों के सफाये के लिए पुलिस टीम ने कमर कस ली है। पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में जनपद में पुलिस टीम लगातार अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई में जुटी हुई है। शुक्रवार को एक बार फिर पुलिस टीम की अपराधियों के साथ मुठभेड़ हो गई। जिसमें पुलिस ने 25 हजार के इनामी शातिर दिलशाद को पैर में गोली लगने के बाद गिरफ्तार कर लिया। अपराधियों के साथ पुलिस टीम का 36 घंटे में यह तीसरा मुठभेड़ था। 


सूचना के मुताबिक मुबारक पुर के देवली के जंगल में गोकशी की सूचना पर पुलिस टीम पहुंची थी। यहां गोकशी की तैयारी में लगे लोगों के साथ पुलिस मुठभेड़ हो गई। जहां शातिर गोकश दिलशाद जवाबी फायरिंग में गोली लगने से घायल हो गया। उसका एक साथी मौके से अंधेरे का फायदा उठाकर कर भाग निकला। 


गिरफ्तार दिलशाद पर गौकशी व अन्य संगीन धाराओं के आधा दर्जन से अधिक मुकदमे विभिन्न जनपदों में दर्ज हैं। अम्बेडकर नगर मे भी वांछित था। इस पर 25000 का इनाम है। इसके पास से मौके से एक गौवंश ,एक तमंचा व कारतूस बरामद हुआ है।


 
36 घंटे में तीसरी मुठभेड़
इससे 24 घंटे पहले बुधवार को दो मुठभेड़ों में दो शातिरों को पुलिस ने पकड़ा था। दीदारगंज थानाक्षेत्र में हल्की मुठभेड़ में पुलिस ने गैंगस्टर में वांछित 25 हजार के इनामी जितेन्द्र को पकड़ा था। उसके पास से एक तमंचा व कारतूस बरामद हुआ था। वहीं बुधवार की रात दस बजे टॉप 10 अपराधी व इनामी बदमाश राजमंगल यादव से देवगांव व मेहनाजपुर पुलिस की मुठभेड़ हुई थी। गोली लगने से राजमंगल घायल हो गया था। 


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार