प्रधान के घर में घुसकर पत्रकार की हत्या, थानाध्यक्ष निलंबित, तीन गिरफ्तार, सीएम ने दिया 10 लाख का मुआवजा

सात के खिलाफ मुकदमा दर्ज




जनसंदेश न्यूज़
बलिया। जनपद के फेफना थाना क्षेत्र में सोमवार की देर शाम एक निजी चैनल के पत्रकार की हत्या का मामला गरमा गया है। पत्रकार की हत्या पर एक तरफ जहां जनपद के सभी पत्रकार संगठन एकजुट हो गये है, वहीं दूसरी तरफ शासन ने सख्ती दिखाते हुए संबंधित थानाध्यक्ष शशिमौली पाण्डेय को निलंबित कर दिया है। घटना की जानकारी होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पत्रकार के परिजनों को 10 लाख का मुआवजा दिये जाने का आदेश दिया है। वहीं इस मामले में पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तीन को गिरफ्तार कर लिया है, बाकि की सरगर्मी के साथ तलाश जारी है। 


 


प्रधान के घर में घुसकर पत्रकार रतन सिंह की गोली मारकर हत्या 
फेफना थाना क्षेत्र के फेफना-रसड़ा मार्ग पर सोमवार की रात करीब नौ बजे हौसलाबुलंद बदमाशों ने पत्रकार रतन सिंह (40) की गोली मारकर हत्या कर दी। सूचना पर पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। पत्रकार पर किसने गोली चलाई, क्यों चलाई, यही सवाल हर किसी के मन में कौंध रहा है। वहीं घटना के बाद जिले के पत्रकारों में आक्रोश व्याप्त है।  


 


हुआ यूं कि फेफना निवासी पत्रकार रतन सिंह रात के वक्त घर जा रहा था, तभी कुछ बदमाशों ने बंदूक से उन्हें दौड़ा लिया। खुद को बचाने के लिए रतन सिंह फेफना प्रधान के घर घुस गए, लेकिन बदमाश फिर भी नहीं माने और घर में घुसकर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। घटना के बाद एसपी देवेंद्र नाथ, एएसपी, सीओ समेत भारी मात्रा पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई।


 


पोस्टमार्टम हाउस पर धरना दे रहे पत्रकारों को समझाने पहुंचे मंत्री
निजी चैनल के पत्रकार की हत्या के बाद जनपद के सभी पत्रकार संगठन आक्रोशित है। पत्रकारों ने प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था पर निशाना साधते हुए पत्रकार के परिजनों में किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी और परिजनों को सुरक्षा की मांग को लेकर पोस्टमार्टम हाउस पर धरना देने लगे। जिसकी जानकारी होते हुए मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल ने मौके पर पहुंच कर सभी को समझाया। 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल