छत्तीसगढ़ के जंगल से बभनी में घुसे हाथियों के झुंड ने मचाया उत्पात, खेत में खड़ी फसलों व घर को रौंदा, दो घायल

बीते वर्ष भी छत्तीसगढ़ के हाथियों ने इलाके में एक पखवारे तक डाल रखा था डेरा 



जनसंदेश न्यूज 
बभनी/सोनभद्र। पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ सीमा से स्थानीय थाना क्षेत्र के नवाटोला में शनिवार की रात घुसे हाथियों के झुंड ने जमकर उत्पात मचाया। खेत में खड़ी खरीफ की फसलों के रौंदने के अलावा एक किसान के घर की दिवाल गिराकर उसे तहस-नहस कर दिया। इस दौरान घर में सो रही एक महिला और उसकी भतीजी गंभीर रूप से घायल हो गयी। घायलों को बभनी अस्पताल मे उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। 


बताया गया नवाटोला में शनिवार की रात हाथियों के झुंड ने रामवृक्ष के घर की दिवाल गिरा दी, जिससे घर में सो रही जगपतिया 55 पत्नी रामवृक्ष और गुड़िया पुत्री रामलल्लू गंभीर से घायल हो गयी। सूचना पर वन विभाग की टीम ने पहुंचकर घायलों को ग्रामीणों की मदद से बभनी अस्पताल मे भर्ती कराया जहां दोनों घायलों के पैरो में गंभीर चोट लगी है। बभनी मे उपचार के पश्चात दोनों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। हाथियों का झुंड सीमा के जगंलो में डटे हैं। गांव से वापस लौटते समय उन्होंने खेत में खड़ी धान की फसल को भी नुकसान पहुंचाया है। 


बता दें कि पिछले वर्ष धान की फसल को हाथियों ने काफी नुकसान पहुंचाया था। इससे शीशटोला, करमघट्टी, मंगरमाड, रम्पाकुरर, बिछियारी गांव के सैकड़ों किसान प्रभावित हुए थे। फसल नुकसान करने के साथ साथ मानसिंह अगरिया, रामदेव गोंड, सहदेव गोंड, रामदेव, जगनरायन का कच्चे का मकान भी गिरा दिया था। इतना ही नहीं डूमरहर निवासी राजेंद्र प्रसाद को हाथियों ने कुचलकर मौत के घाट भी उतार दिया था। इस वर्ष पुनरू हाथियों के दस्तक देने से ग्रामीणों में दहशत ब्याप्त है।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल