छह महीने से फरार चल रही फर्जी शिक्षिका गिरफ्तार, पति को लेकर भागने की फिराक में थी शिक्षिका

बीटीसी एवं टेट का प्रमाण पत्र विभागीय जांच में मिला था फर्जी 

जनसंदेश न्यूज़
दुल्लहपुर/गाजीपुर। थाना क्षेत्र स्थित अमारी रेलवे क्रासिंग के पास   पुलिस ने छह माह से फरार शिक्षिका को गिरफ्तार कर लिया हैं। पुलिस ने पूछताछ के बाद उसे जेल भेज दिया हैं। दरअसल, शिक्षिका के ऊपर फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी करने के मामले में बीएस ने मुकदमा दर्ज कराया था। 
थाना क्षेत्र स्थित ओड़राई प्राथमिक विद्यालय में तैनात महिला शिक्षक अनीता यादव की शासन के आदेश पर हो रही जांच के बाद बीएसए ने मुकदमा दर्ज कराया था। इसी मामले में वह  छह माह से फरार चल रही थी। आरोपित शिक्षिका का प्रमाण पत्र जांच में फर्जी पाया गया था। बतादें, बीएसए श्रवण कुमार गुप्ता ने विगत माह जनवरी में दुल्लहपुर थाने में उक्त फर्जी शिक्षिका के उपर मुकदमा दर्ज कराया था। एसआई रामअनुग्रह पांडेय ने बताया कि फर्जी शिक्षिका अनीता यादव पत्नी शोभनाथ मऊ जनपद के चिरैयाकोट थाना क्षेत्र स्थित हीरापुर गांव की निवासी है। जिसकी नियुक्ति विकास खंड जखनियां के दुल्लहपुर थाना क्षेत्र के ओड़राई स्थित प्राथमिक विद्यालय पर थी। जिसका बीटीसी एवं टेट का प्रमाण पत्र विभागीय जांच में फर्जी पाया गया। मुकदमा दर्ज होने के बाद इसे पकड़ने के लिए पुलिस ने कई बार इसके ठिकाने पर दबिश दी। लेकिन फरार हो गयी पकड़ में नहीं आयी। शनिवार की सुबह मुखबिर से सूचना मिली की उक्त फर्जी शिक्षिका अपने पति के इसी रास्ते कहीं जाने वाली है। सूचना पर एसआई  के साथ पुलिस चंद्रमोहन यादव, चंद्रदेव के साथ महिला कांस्टेबल अंबालिका ने घेराबंदी कर शिक्षिका को गिरफ्तार कर लिया।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल