चकिया चेयरमैन अशोक बागी हुए कोरोना संक्रमित, बनारस के इस हॉस्पिटल के आईसीयू में भर्ती, चंदौली डीएम ने की मदद, स्टेज-3.......

कोरोना के स्टेज-3 में पहुंच गये नगर पंचायत चेयरमैन

जनसंदेश न्यूज़
चकिया/चंदौली। कोरोना संकटकाल में अग्रिम मोर्चे पर तैनात होकर गरीब, मजदूर व असहाय लोगों की सेवा करने वाले कोरोना योध्दा नगर पंचायत अध्यक्ष अशोक कुमार बागी कोरोना संक्रमित हो गये हैं। शुक्रवार को गंभीर स्थिति में उन्हें मैदागिन के मैडमिन हॉस्पिटल के कोविड वार्ड के आईसीयू में भर्ती किया गया। जहां वें 24 घंटे डॉक्टरों की निगरानी में हैं। हालांकि शनिवार को उनकी हालत में काफी सुधार हुआ है और डॉक्टर के अनुसार चेयरमैन की हालत स्थिर है। 
आपको बता दें कि बीते दिनों टाइफाइड की शिकायत होने के बाद चेयरमैन अशोक कुमार बागी का इलाज बनारस के दुर्गाकुण्ड स्थित डा. सवरिया के यहां चल रहा था। शुक्रवार की सुबह से ही इनकी हालत बिगड़ने लगी तो डॉक्टरों ने इनका सीटी स्कैन कराने की सलाह दी। जिसके बाद चेयरमैन का सीटी स्कैन हुआ। इसी दौरान इनके कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हो गई। जिसके बाद पूरे हॉस्पिटल में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में डॉक्टरों ने इनको बीएचयू भर्ती कराने की बात कहीं। जिसके बाद परिजन इन्हें बीएचयू लेकर पहुंचे तो वहां भी इनको भर्ती करने से इनकार कर दिया गया। 
अंततः इनके पुत्र प्रीतम जायसवाल ने चंदौली जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल से मदद मांगी। जिसपर उन्होंने चंदौली सीएमओ को मामले से अवगत कराते हुए मदद करने की बात कही। सीएमओ चंदौली ने बनारस के सीएमओ से वार्ता की। जिसके बाद सीएमओ बनारस की पहल पर इनको मैदागिन स्थित मैडमिन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। 
जहां कोविड वार्ड के आइसीयू में इनका इलाज चल रहा है। हॉस्पिटल के डॉक्टरों के अनुसार चेयरमैन को सही समय पर भर्ती कर दिया गया, क्योंकि उनके शरीर का ऑक्सीजन लेवल काफी कम हो गया था और चेयरमैन कोरोना के स्टेज-3 में पहुंच गये थे। डॉक्टरों ने बताया कि भर्ती होने के दौरान चेयरमैन की हालत काफी खराब थी, लेकिन अब उनके स्थिति में सुधार है। इस संबंध में उनके पुत्र प्रीतम जायसवाल ने बताया कि पिता जी की स्थिति में पहले ही अपेक्षा काफी सुधार है। चकिया के सभी लोग उनके लिए दुआ करें।


लॉकडाउन में खूब किये गरीबों की सेवा
आपको बता दें चेयरमैन चकिया पूरे लॉकडाउन के दौरान दिन रात चकिया के गरीब, असहाय और मजदूरों की मदद करने का कार्य करते थे और हर गरीब बस्ती में खाद्यान पैकेट सहित तमाम सुविधाएं पहुंचाने का कार्य करते थे। चेयरमैन अग्रिम मोर्चे पर कोरोना योध्दा की भूमिका निभाते समय ही शायद कोरोना की चपेट में आये होंगे। 


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल