भाई की मौत के बाद भाभी को शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाता रहा देवर, सास-ससुर ने भी दिया साथ

बार-बार गर्भपात का विरोध करने पर महिला का मारपीट कर घर से निकाला


महिला ने आरोपियों के खिलाफ थाने में की शिकायत



जनसंदेश न्यूज़
लखनऊ। पति की मौत के बाद ससुराल में रह रही महिला के साथ उसके ही देवर ने शादी का झांसा देकर लगातार दुष्कर्म करता रहा और उसके इस कृत्य में महिला के सास-ससुर भी साथ दे रहे थे। सभी ने मिलकर कई बार उसका गर्भपात कराया। महिला ने जब इसका विरोध किया तो तीनों ने उसे मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया। पीड़िता ने पुलिस से शिकायत की है। प्राप्त तहरीर पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। 


मामला यूपी के मथुरा में मांट थाना क्षेत्र का है। पीड़िता के अनुसार उसकी शादी के 11 वर्ष बाद 2017 में पति की मौत हो गई थी। तब तक वह दो बच्चों को जन्म दे चुकी थी। पति की मौत के बाद वह बच्चों के साथ सुसराल में रह रही थी। इस दौरान देवर ने शादी का झांसा उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने का प्रयास किया। 


लेकिन पीड़िता ने शादी से पहले इस तरह के संबंध बनाने से मना कर दिया। छह अप्रैल 2019 की रात देवर ने दुष्कर्म किया। इसकी शिकायत करने के लिए वह थाने जा रही थी तो सास-ससुर और देवर शादी के लिए तैयार हो गए। जिसके बाद मथुरा कचहरी पर एक शपथपत्र बनवा कर विश्वास दिलाया कि अब उनकी कोर्ट मैरिज हो गई है। 


इसके बाद देवर लगातार यौन शोषण करता रहा, जिससे वह कई बार गर्भवती हुई और हर बार जबरन गर्भ गिराया गया। दिसंबर 2019 को पुनः गर्भवती होने पर उसने गर्भ गिराने से मना कर दिया। दो फरवरी 2020 को देवर उसे मुंबई ले गया। जहां होटल में उसकी इच्छा के विपरीत शारीरिक सबंध बनाए और वहां भी गर्भ गिराने को दबाव डालता रहा। उसने मना कर दिया।


मुंबई से लौट कर आने पर 12 फरवरी को देवर और सास ने जबरन गर्भपात की दवा खिला दी, इससे उसकी हालत बिगड़ गई और 16 फरवरी को सदर बाजार मथुरा एक अस्पताल में गर्भपात करा दिया। विरोध करने पर सास-ससुर व देवर ने 18 मई 2020 को मारपीट कर उसे घर से निकाल दिया। इंस्पेक्टर भीम सिंह जावला का कहना है कि पीड़िता की तहरीर पर मामले की जांच की जा रही है।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल