बीएसए ने आधा दर्जन से अधिक स्कूलों का किया तूफानी दौरा, एक अध्यापिका निलंबित, दर्जनों का रोका वेतन, अध्यापकों में हड़कंप

निरीक्षण में कई माह से अनुपस्थित चल रही थी अध्यापिका निलंबित

जनसंदेश न्यूज 
सोनभद्र। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डक्टर गोरखनाथ पटेल ने गुरुवार को  घोरावल विकास खंड के आधा दर्जन से अधिक प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कई माह से गैरहाजिर चल रही एक अध्यापिका को निलंबित करते हुए गैरहाजिर पाए गए र्दजनभर शिक्षकों का चालू माह का वेतन रोकने का निर्देश दिया।


बीएसए कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने घोरावल विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय बसौली का निरीक्षण किया। यहाँ सहायक अध्यापिका आकांक्षा यादव, सुनीता यादव व शिक्षामित्र सब्या अनुपस्थित मिली। प्राथमिक विद्यालय भौरवा में सहायक अध्यापिका नीतु सिंह व श्वेता मिश्रा अनुपस्थित मिली। इसके बाद बीएसए ने उच्च प्राथमिक भौरवा जा धमके। यहाँ सहायक अध्यापक संजय कुमार सिंह व अनुदेशक आरती मौर्या, श्याम कुंवर यादव व प्रियंका पाडेय अनुपस्थित मिली। 


बीएसए प्राथमिक विद्यालय मुसरधारा पहुंचे। जहां पर सहायक अध्यापिका एकता अनुपस्थित मिली। बीएसए के निरीक्षण में प्राथमिक विद्यालय सोतिल में सहायक अध्यापिका मनीषा गुप्ता अनुपस्थित मिली। शिक्षकों से जानकारी मिली कि वे लम्बे समय से अनुपस्थित रह रही है। जिस पर बीएसए ने उन्हें निलंबित कर दिया। 


इसके बाद बीएसए प्राथमिक विद्यालय डोमखरी, बरौली, प्राथमिक गड़मा, प्राथमिक व उच्च प्राथमिक खजरौल का निरीक्षण किया। जहां सभी अध्यापक उपस्थित पाए। जिस पर उन्होंने उपस्थित शिक्षकों की सराहना करते हुए बेहतर कार्य करने का आदेश दिया। निरीक्षण के उपरांत अनुपस्थित पाए गए सभी शिक्षकों का वर्तमान माह का वेतन अवरुद्घ कर दिया गया। इसके अलावा जो शिक्षामित्र व अनुदेशक अनुपस्थित थे उनका भी वर्तमान माह का मानदेय अवरुध्द किया गया।


फर्जी डिग्री पर नौकरी कर रही अध्यापिका के खिलाफ मुकदमा दर्ज


ओबरा। स्थानीय थाना क्षेत्रान्तर्गत स्थित मगरदहा प्राथमिक विद्यालय की एक शिक्षका के बीएलएड की फर्जी डिग्री पर नौकरी करने के मामले मेें खण्ड शिक्षाधिकारी चोपन मुकेश सिंह ने बुधवार की सायं स्थानीय थाने में तहरीर देकर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया। 


खण्ड शिक्षाधिकारी श्री सिंह ने पुलिस को दिए तहरीर में अवगत कराया कि प्रमाण पत्रों के जांच के दौरान पाया गया कि प्राथमिक विद्यालय मगरदहा खास में अध्यापिका के पद पर कार्यरत कुसुम लता निवासी मऊ  की बीएलएड की डिग्री फर्जी है। खण्ड शिक्षाधिकारी चोपन की तहरीर पर प्रभारी निरीक्षक ओबरा शैलेश राय ने अध्यापिका के विरुध्द आईपीसी की धारा 420, 467, 468, 471 के तहत मुकदमा दर्जकर अग्रीम कार्रवाई में जुट गए हैं। चौकी इंचार्ज कृष्ण अवतार सिंह ने बताया कि मामले में विवेचना की जा रही है, विवेचनोपरांत दोषी पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी।


 


Popular posts from this blog

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल

साली के प्यार में आकर जीजा ने पत्नी और बेटी की कर दी निर्मम हत्या, 10 साल पहले किया था लव मैरिज

केन्द्र सरकार ने जारी की अनलॉक 5 की गाइडलान, इस तारीख से पूरे देश में खुलेंगे सिनेमा हॉल