बाहुबली विधायक विजय मिश्रा की मुश्किलों में इजाफा, प्रशासन ने सीज किया बालू का प्लांट



जनसन्देश न्यूज
गोपीगंज/भदोही विधायक विजय मिश्रा के ऊपर मुकदमे के बाद भी उनके मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। उनके कौलापुर स्थित प्लांट पर प्रशासन द्वारा बालू खनन पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया। साथ ही सीज की कार्रवाई भी की गई।


भदोही विधायक रवींद्रनाथ त्रिपाठी ने ज्ञानपुर विधायक विजय मिश्र पर गरीबों को पट्टा की गई जमीन पर भारी मात्रा में बालू डंप कर अतिक्रमण करने का आरोप लगाते हुए जिला प्रशासन से शिकायत की थी। जिलाधिकारी राजेन्द्र प्रसाद के निर्देश पर एसडीएम के नेतृत्व में राजस्वकर्मियों द्वारा जमीन और बालू की पैमाइश कराई गयी। 


जांच में पता चला कि विधायक के रिश्तेदार के नाम से 15 हजार घन मीटर बालू डंप करने की अनुज्ञा जारी है, लेकिन वहां इससे काफी ज्यादा बालू रखा गया है। साथ ही निर्धारित से ज्यादा जमीन के रकबे का उपयोग बालू रखने में किया गया है। जिस जमीन पर बालू रखा गया है, वह और उसके आसपास की लगभग 18 बीघे जमीन 31 लोगों के नाम पट्टा की गई थी। इनमें से आठ लोगों को अब तक कब्जा भी नहीं मिल पाया है। 


हालांकि उनमें से किसी ने इस बात की शिकायत या आपत्ति भी दर्ज नहीं कराई है। जांच रिपोर्ट जिलाधिकारी राजेंद्र प्रसाद को भेजी गई। जिलाधिकारी ने शनिवार को बालू को सीज कराते हुए पुलिस की सुपुर्दगी में देने का निर्देश दिया। कहा कि अनुज्ञा में निर्धारित मानक से अधिक बालू डंप करने के आरोप में कार्रवाई की जाएगी।



बालू प्लॉट पर छाया रहा सियापा
गोपीगंज। विधायक विजय मिश्र का बालू प्लांट सीज किये जाने से दो दर्जन मजदूरों की जहां रोजी-रोटी छिन गई। वहीं कार्य में लगे 4 कर्मचारी के घरों के चूल्हे भी बुझने के कगार पर पहुँच गये। बता दें कि बालू खनन पर रोक लगने के कारण कर्मचारी बेकार पड़े रहे। जिनकी अनिश्चित काल के लिए छुट्टी कर दी गई। चार कर्मचारी मायूस होकर अपने घरों को लौट गये। शनिवार को प्लांट पर पूरी तरह सियापा छाया रहा।



लेटरपैड के मामले में भदोही विधायक ने की शिकायत
ज्ञानपुर। जेल जाने के बाद भी विधायक विजय मिश्र की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं। विधायक विजय मिश्र द्वारा अपने लेटरपैड में स्वयं को भारतीय जनता पार्टी का सहयोगी दल का विधायक लिखा गया है। भदोही विधायक रवींद्र नाथ त्रिपाठी ने इस मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लिखित शिकायत की है। विधायक भदोही का आरोप है कि विधायक विजय मिश्र अपने लेटरपैड में स्वयं को भाजपा सहयोगी पार्टी का विधायक लिखकर अधिकारियों में धौंस जमा कर अनैतिक कार्य करते हैं। विधायक रवींद्र नाथ के मुताबिक इस मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जाँच का आदेश दिया है।


Popular posts from this blog

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल

साली के प्यार में आकर जीजा ने पत्नी और बेटी की कर दी निर्मम हत्या, 10 साल पहले किया था लव मैरिज

केन्द्र सरकार ने जारी की अनलॉक 5 की गाइडलान, इस तारीख से पूरे देश में खुलेंगे सिनेमा हॉल