विकास दुबे का चंदौली कनेक्शन! इस कारोबारी ने विकास की पत्नी और बेटे को लखनऊ से चंदौली पहुंचाया, पूछताछ में खुलासा


जनसंदेश न्यूज़
चंदौली। 8 पुलिसकर्मियों की सामूहिक हत्याकांड के बाद फरार चल रहे विकास दुबे का चंदौली कनेक्शन सामने आया है। विकास दुबे को फरार कराने के आरोप में एसटीएफ द्वारा कारोबारी जय बाजपेई से पूछताद के बाद कई अहम जानकारियां सामने आई है। दरअसल पुलिस को शनिवार रात जय की तीन लग्जरी कारें लावारिस हालत में कानपुर के विजय नगर चौराहे के पास खड़ी मिली थीं।
रविवार को गाड़ियों को थाने लाने के बाद संदेह के आधार पर पुलिस ने जय बाजपेई को पूछताछ के लिए बुलाया। पुलिस के बाद एसटीएफ ने उससे पूछताछ शुरू की है। पहले जय ने बताया था कि विकास दुबे के साथ फोटो वायरल होने की वजह से उसने गाड़ियों को विजय नगर में खड़ा किया था। 
एसटीएफ की पूछताछ में कई अहम जानकारी व साक्ष्य मिले हैं। एनकाउंटर कांड को अंजाम देने के बाद विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे और बेटे को फरार कराने में कारोबारी जय बाजपेई की भूमिका सामने आ रही है। आशंका है कि जय ने गाड़ी उपलब्ध करवाकर दोनों को लखनऊ से चंदौली पहुंचाया। एसटीएफ की चार दिन से पूछताछ जारी है।



एसटीएफ सूत्रों के मुताबिक विकास ने एनकाउंटर से पहले जय से फोन पर बातचीत की थी। इसमें विकास ने उसे बताया था कि कोई बड़ी घटना होने वाली है। वो लखनऊ में रहने वाली उसकी पत्नी रिचा दुबे और बेटे को सुरक्षित जगह पहुंचवा दे। आशंका है कि जय ने विकास के बताए ठिकाने पर उसकी पत्नी और बेटे को पहुंचाया, इसके बाद लौट आया। अब एसटीएफ यह गुत्थी सुलझाने में लगी है कि आखिर कारें लावारिस हालत में बगैर नंबर के क्यों खड़ी की गईं।
हालांकि चंदौली पुलिस उसके संबंधियों की तलाश में व्यापक स्तर पर अभियान शुरू कर दिया है। जहां होटलों के साथ ही अन्य सार्वजनिक जगहों पर पुलिस की टीम गहन तलाशी कर रही है और जनपद में आने-जाने वाली सभी गाड़ियों को भी प्रमुखता के साथ जांचा जा रहा है। 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल