संकट में समाधान: स्मार्ट फोन नहीं है तो भी कोई चिंता नहीं, बच्चों की पढ़ाई के लिए तैयार किया ‘वर्कशीट’

प्राथमिक विद्यालय चौरहट की सहायक अध्यापिका ने निकाला संकट में समाधान


गांव में घूम-घूम कर बांटे बच्चों को वर्कशीट

जनसंदेश न्यूज़
चंदौली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्र को दिये अपने संबोधन में कहा था कि संकट में ही समाधान मिलते हैं और हमें बेहतर करने की प्रेरणा मिलती है। जिससे हम कुछ ऐसा कर उठते है, जो दूसरों के लिए नजीर बन जाती है। नियामताबाद विकासखंड के प्राथमिक विद्यालय चौरहट की सहायक अध्यापिका अल्पिका जायसवाल पर यह बात एकदम सटीक बैठती है। आज जब कोरोना संकट के समय में शैक्षणिक संचालन को लेकर सबसे बड़ा प्रश्न चिन्ह खड़ा हुआ है और ऑनलाइन शिक्षा पर जोर दिया जा रहा है, ऐसे में अल्पिका को ऐसे विद्यार्थियों की चिंता सताने लगी, जिनके पास स्मार्ट फोन नहीं है। क्योंकि ऑनलाइन पढ़ाई के लिए स्मार्ट फोन होना सबसे जरूरी है। 



ऐसे संकट के समय में उन्होंने विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए नायाब तरीका ढूंढ़ निकाला है। अल्पिका ने ऐसे बच्चे, जिनके पास स्मार्ट फोन नहीं है, और वें ऑनलाइन पढ़ाई नहीं कर सकते है, उनके लिए वर्कशीट तैयार किया है। इस वर्कशीट के द्वारा वें विद्यार्थियों को नवाचार के माध्यम से शिक्षित करने का वीणा उठाया है। उनके द्वारा तैयार वर्कशीट से बच्चों को घर पर बैठ कर ही पढ़ाई करने में मदद मिलेगी। वर्कशीट में उन्होंने इस बात विशेष ध्यान रखा है कि बच्चों को पढ़ाई के दौरान उबाऊ महसूस ना हो। इसके लिए उन्होंने ऐसा वर्कशीट तैयार किया है, जिसमें अक्षरों की पहचान के साथ-साथ उसमें रंग भरने तथा चित्र देखकर कहानी लिखने और विलोम शब्दों का मिलान करने में आसानी हो।  



अल्पिका जायसवाल का मानना है जिन बच्चों के पास स्मार्ट फ़ोन है, वें तो ऑनलाइन माध्यम से पढ़ाई कर ले रहे, लेकिन अधिकतर बच्चे स्मार्ट फ़ोन न होने की वजह से पढ़ाई नही कर पा रहें। इसी उद्देश्य को ध्यान में रख कर उन्होंने यह तरीका निकाला है, क्योंकि सभी बच्चों को पढ़ाई का अधिकार मिलना चाहिए। 



बुधवार को उन्होंने गांव में जाकर कक्षा 3 के नाज़िम, कक्षा 2 के नसीम, कक्षा 4 के आर्यन, सना, हुश्ना, विकास, प्रिया, आकाश तथा कक्षा 5 के रोहित, रुचि, आँचल, पायल आदि वर्कशीट देकर समझाया और सभी बच्चों को कोविड-19 के बारे में जागरूक करते हुए उनको इस महामारी में सावधानी बरतने की सलाह दी।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल