भेड़ को चरने के लिए छोड़ सो रहा था अधेड़, रौंदते हुए निकल गया पोकलेन, परिजनों ने किया हंगामा



जनसंदेश न्यूज 
मरदह/गाजीपुर। थाना क्षेत्र के सिगेंरा गांव स्थित सिवान में मंगलवार की देर रात सोते हुए भेड़ पालक को भारी वाहन ने कुचल दिया। जिससे की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई। घटना के बाद चालक वाहन छोड़ फरार हो गया। इसकी जानकारी होते ही हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। परिजनों ने शव को बिना किसी प्रशासनिक अधिकारी के आने तक नहीं उठाने की बात पर अड़े थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी लोगों का समझाकर हालात को काबू किया।
सिगेंरा गांव निवासी हंसराज पाल 45 वर्ष पुत्र स्व.परमेश्वर पाल भेड़ पालक थे। प्रतिदिन की भांति मंगलवार को अपने सैकड़ों भेड़ों को लेकर अपने सगे भाई बासदेव पाल, दुखन्ती पाल व भतीजे विनोद पाल व मुन्ना पाल के साथ पूर्वांचल एक्सप्रेस-वें के बगल में स्थित खाली जमीन पर रात्रि प्रवास किए थे। सभी लोग भेजने करने के बाद चारों दिशाओं में निगरानी के लिए सो गए। 
इसी दौरान देर रात पोकलेन वाहन ने गहरी नींद में सो रहे हंसराज पाल को रौंदते हुए निकल गया।  हंसराज पाल का शरीर क्षत विक्षत हो गया और घटना स्थल पर मौत हो गई। वाहन चालक घटना स्थल से पांच सौ मीटर दूरी पर वाहन खड़ा कर फरार हो गया। इसकी जानकारी मृतक के भाई बासदेव पाल को तीन बजे भोर में हुआ। जब वह नित्यक्रिया के लिए जा रहे थे। शोर गुल सुनकर मौके पर धीरे-धीरे सैकड़ों की संख्या में भीड़ इकट्ठा हो गई। शव को रखकर विरोध प्रदर्शन करने लगे।
कासिमाबाद तहसीलदार डा. विराग पांडेय ने शासन से मिलने वाले पांच लाख सहायता को जल्द से जल्द दिलाने की बात पर परिजन व ग्रामीण शव को मौके से जाने दिए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सीओ कासीमाबाद महमूद अली ने बताया कि इस मामले में मृतक की पत्नी की तहरीर पर अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही है।
 
 


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल