बनारस के वरिष्ठ अधिवक्ता अनिल सिंह तीसरी बार बने मुंबई के एडिशनल सॉलिसीटर जनरल


जनसंदेश न्यूज़
वाराणसी। बॉम्बे हाईकोर्ट के जाने माने वरिष्ठ अधिवक्ता अनिल सिंह को लगातार तीसरी बार एडिशनल सॉलिसीटर जनरल (एएसजी) नियुक्ति किया गया है। यह उपलब्धि हासिल करनेवाले श्री सिंह हाईकोर्ट के पहले वकील हैं। 30 जून 2020 को बतौर एएसजी श्री सिंह का दूसरा कार्यकाल पूरा हो रहा था। देश के प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में काम करने वाली नियुक्ति कमेटी ने फिर से एएसजी के रुप में श्री सिंह की नियुक्ति को मंजूरी प्रदान कर दी हैं। एएसजी मुख्य रुप से हाईकोर्ट में केंद्र सरकार का पक्ष रखते हैं।  
एएसजी से पहले श्री सिंह बार काउंसिल ऑफ महाराष्ट्र एंड गोवा के चेयरमैन भी रह चुके हैं। मूल रुप से वाराणसी के मानी गांव (पिंडरा) निवासी अनिल सिंह की ख्याति कानूनविद के साथ एक संवेदनशील व्यक्ति के तौर पर है।
बतौर एएसजी उन्होंने सामाजिक कार्यकर्ता नरेंद्र दाभोलकर व गोविंद पानसरे, रेरा कानून की वैधता, यस व पीएमसी बैंक (राकेश वधावन) न्यायाधीश लोया, साल 2008 का मालेगांव बम धमाका, मैगी प्रतिबंध, शीना बोरा हत्याकांड, सोहराबुद्दीन मुठभेड़ केस, बुलेट ट्रेन,कोस्टल रोड व मेट्रो ट्रेन से संबंधित मामलों में केन्द्र सरकार का पक्ष रखा। अनिल सिंह की नियुक्ति पर पिंडरा विधायक डॉ अवधेश सिंह, भाजपा काशी क्षेत्र उपाध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह, हीरा सिंह, अरुण सिंह, पूर्व ब्लाक प्रमुख दिनेश सिंह, एसके सिंह ने अनिल सिंह को बधाई दी।


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार