अपने पिता के सतत प्रयासों को आशीष कादियान ने किया सलाम 



जनसंदेश न्यूज़
इंदौर। कोरोना वायरस की वजह से पूरा देश थम गया है। वर्तमान में जहां प्रमुख शहरों में इसके आगे बढ़ने की संभावनाओं के साथ लॉकडाउन लगा हुआ है। ऐसे में फ्रंटलाइन वॉरियर्स हैं, जो कि पूरी ईमानदारी से अपनी सेवाएं दे रहा है। उन्हीं में से एक हैं एक्टर आशीष कादियान के पिता राजवीर सिंह कादियान।   
फिलहाल एण्ड टीवी के शो संतोषी मां सुनाये व्रत कथायें में इंद्रेश की भूमिका निभा रहे, आशीष ने अपने पिता के बारे में बात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि मैंने अपने पिता को देश को अधिक सुरक्षित तथा आत्मनिर्भर बनाने में अपना कर्तव्य निभाते हुये सौ प्रतिशत प्रयास करते देखा है। जब हम बहुत ही उत्सुकता से उनके काम के बारे में पूछा करते थे तो उनसे हमें साहसिक मुठभेड़ के बारे में और कहानियां सुनने को मिलती थीं। बचपन से ही मैंने उन्हें अपनी वर्दी के प्रति सम्मान करते हुए देखा है। साथ ही देश की बेहतरी के लिये जुनून के साथ काम करते हुए। लॉकडाउन की मौजूदा स्थिति में, मैं और मेरी मां मुंबई में फंस गये हैं, जबकि मेरे पिता और भाई दिल्ली में हैं। इस महामारी में दिन-रात अपने पिता को संघर्ष करते हुए देखना जितना मुश्किल है उतना ही उनके प्रति गर्व महसूस होता है। उनके संक्रमित होने का डर बराबर बना हुआ है, लेकिन हमें संतुष्टि है कि वह एक नेक कार्य कर रहे हैं। 
लोगों में महामारी के बढ़ते डर के साथ, कुछ लोग ऐसे भी हैं जो कि सरकारी नियमों और शर्तों को मानने से इनकार कर रहे हैं। दर्शकों से घर पर रहने की गुजारिश करते हुए आशीष कहते हैं कि लॉकडाउन के नियमों का पालन करना और घर पर रहना अभी बेहद जरूरी है। हमारे फ्रंटलाइन वॉरियर्स हर दिन इस खतरनाक महामारी से हमारी रक्षा करने के लिये संघर्ष कर रहे हैं। ये नियम हमारे फायदे के लिये बनाये गये हैं और हमें उनका पालन जरूर करना चाहिये।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल