रंगेहाथ पकड़ाया चोर, पुलिस को देख चिल्लाया मैं हूं कोरोना मरीज और सामने ही हो गया फरार


जनसंदेश न्यूज़
मेरठ। पुलिस से बचने के लिए बदमाश भी नये-नये तरकीब और बहाने ढूंढ़ ही लेते है। आज जब कोरोना संकट के कारण सब भयभीत है तो बदमाशों को कोरोना नाम का एक औजार मिल गया है, पुलिस से बचने के लिए। कुछ ऐसा ही मामला जनपद के दिल्ली रोड अग्रेसन भवन का है। जहां डेयरी में घूसे चोर को लोगों ने रंगे हाथ पकड़ लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस जैसे ही उसे पकड़ना चाहा, चोर ने अपनी चाल चल दी और पुलिस से बोला कि मुझे कोरोना है और अगर मुझे छुआ तो तुम्हें भी कोरोना हो जायेगा। 
फिर क्या था पुलिस के पसीने छूट गये। आलम यह हो गया कि पुलिस वाले ना उसके पास जाते और ना ही उसे गाड़ी में बैठने का इशारा करते। इतने में शातिर चोर ने मौके का फायदा उठाया और पुलिस के सामने ही फरार हो गया। यह पूरा वाकया वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। 
सूचना के मुताबिक रेलवे रोड चौराहे के पास अग्रसेन भवन निवासी देवकीनंदन शर्मा ने गौशाला बनवाई है। जहां वें परिवार के साथ रहते है। अर्धरात्रि गोशाले में तीन बदमाश घुस आये और एक गोवंश को खोलकर बाहर ले गए। लेकिन मजे की बात यह है कि गोवंश इन लोगों को टक्कर मारकर लौट आया। इसी दौरान देवकीनंदन की आंख खुल गई और उन्होंने गोवंश को दोबारा अहाते में बांध दिया। 
देवकीनंदन को देखकर दो आरोपी दीवार के पास छिप गए, जिन्हें पकड़ लिया गया। और एक आरोपी फरार हो गया। दोनों को पुलिस के हवाले कर दिया गया। जो आरोपी रात में फरार हुआ था, वह सुबह करीब चार बजे दोबारा डेयरी में आया। इस दौरान जाग हो गई और उसे पकड़ लिया गया। पुलिस को बुलाया गया।पुलिस को देखते ही बदमाश चिल्लाया कि वो कोरोना मरीज है, उसे हाथ मत लगाना। छह पुलिसकर्मी मौके पर थे, लेकिन किसी ने भी उसे नहीं पकड़ा। इस दौरान सीसीटीवी कैमरे तक चेक कर लिए और आरोपी गोवंश ले जाते हुए दिखाई दिए, लेकिन पुलिस ने आरोपी को हाथ नहीं लगाया और वह मौके से फरार हो गया। 
 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल