भाजपा नेता की नहीं कम हो रही मुुुश्‍किलें, संजय गुप्ता का तत्काल मानदेय रोकने का निर्देश


उपायुक्त मनरेगा ने बीडीओ चिरईगांव को भेजा पत्र



जनसंदेश न्यूज 
चिरईगांव। शराब तस्करी में लिप्त और पद से बेदखल हुुए भाजयुमो के निवर्तमान जिलाध्यक्ष संजय गुप्ता का तत्काल मानदेय रोकने का निर्देश उपायुक्त मरनेगा ने दिया है। उपायुक्त ने बीडीओ को पत्र भेज रोजगार सेवक के रूप में मिलने वाले मानदेय को रोकने को कहा और इसकी रिपोर्ट मांगी।
शराब तस्करी में संलिप्ता उजागर होने के बाद एक तरफ बीजेपी ने  संजय गुप्ता को पद मुक्त कर दिया वहीं दूसरी ओर प्रशासन ने भी शिकंजा कसना शुरु कर दिया। गुरुवार के अपायुक्त मनरेगा ने बीडीओ को लिखे पत्र में इसके रिकार्ड की जांच  का निर्देश दिया है। 
संजय गुप्ता ग्राम पंचायत छांही में ग्राम रोजगार सेवक के रूप में कार्यरत रहा। इस दौरान इसने मानदेय लिया और बकाया मानदेय के लिए शासन को पत्राचार भी किया था। लेकिन शराब प्रकरण में नाम आने के बाद जिला प्रशासन सख्त हो गया है। छांही ग्राम रोजगार सेवक द्वारा वर्ष 2015 में चुनाव लड़ने के समय पद से इस्तीफा देने के उपरांत भी पद पर बने रहना और शराब तस्करी के ताजा प्रकरण में कथित रुप से संलिप्तता पाया जाना अत्यंत गंभीर प्रकरण माना जा रहा है। इस प्रकरण में खण्ड विकास अधिकारी चिरईगांव विजय कुमार अस्थाना ने कहा कि पत्र मिला है। जल्द ही कार्रवाई की उपर के अधिकारियों को अवगत करा दिया जायेगा। 


 


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी