योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, यूपी के पांच एआरटीओ हुए निलंबित


बर्निंग बस के मामले में कन्नौज के एआरटीओ पर भी गिरी गाज



जनसंदेश न्यूज़
लखनऊ। लापरवाही और अनियमितता बरतने वाले पांच एआरटीओ को योगी सरकार ने शुक्रवार को निलंबित कर दिया। निलंबित होने वाले में लखनऊ, कन्नौज, फर्रुखाबाद, अमेठी और हमीरपुर एआरटीओ शामिल है। प्रमुख सचिव परिवहन राजेश सिंह ने इन पांचों एआरटीओ के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की है। बता दें कि कन्नौज के एआरटीओ को कन्नौज में हुए भीषण बस हादसा के मामले निलंबित किया गया है।  
कन्नौज में स्लीपर बस में आग लगने से 20 यात्रियों की मौत हो गई थी। इस घटना को शासन ने गंभीरता से लिया है। जिसमें लापरवाही के चलते एआरटीओ कन्नौज संजय झा को सस्पेंड कर दिया गया है। इसके साथ ही संजय झा व एआरटीओ मोहम्मद हसीब वर्तमान तैनाती हमीरपुर के विरुद्ध फिटनेस देने में लापरवाही और गड़बड़ी के आरोप में एफआईआर भी कराए जाने का निर्देश दिया है।
इसी प्रकार फर्रुखाबाद के एआरटीओ शांति भूषण पांडेय, हमीरपुर के एआरटीओ मोहम्मद हसीब, कन्नौज एआरटीओ संजय झा, लखनऊ एआरटीओ संजय तिवारी और अमेठी एआरटीओ पुष्पांजलि गौतम भी निलंबित किया गया है। शासन स्तर पर हुई इस कार्रवाई से परिवहन विभाग के अधिकारियों के बीच हड़कंप मचा हुआ है। 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल