इन हसीनाओं से रहें सावधान, पहले उलझाती हैं, फिर प्यार में फंसाती हैं, फ्रेंड रिक्वेस्ट ना करें स्वीकार.....


इनके मोहपाश में फंसे तो हो जायेंगे कंगाल
 वाराणसी के एक दर्जन से ज्यादा युवा हो चुके हैं शिकार 
 कीमती सामान भेजने और  एयरपोर्ट पर फंसने के बहाने बनाती है शिकार 
 रवि प्रकाश सिंह 
वाराणसी। विदेशी हसीनाओं के चक्कर में पड़कर आपकी जेब ढ़ीली हो सकती है, और हो भी रही है। इन हसीनओं का शिकार आये दिन युवा हो रहे हैं। इनका एक संगठित गिरोह है जो पहले दोस्ती के लिए फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजती है। रिक्वेस्ट स्वीकार करते ही खेल शुरु हो जाता है। इस खेल में शहर के एक दर्जन से ज्यादा युवा फंस चुके हैं। हालांकि शर्म और सामाजिक प्रतिष्ठा की वजह से रपट दर्ज कराने में पीछे हट जाते हैं।  लेकिन  बड़ागांव में युवक से हुई ठगी के बाद इन महिलाओं को चेहरा बेनकाब हुआ। इसके शिकर कुछ लोगों ने फोटो भेज जानकारी दी है। 



पार्सल भेजने और भारत आकर मिलने का देती हैं भरोसा 
कभी पार्सल भेजने के नाम पर तो कभी भारत आने के नाम पर पैसे वसूल का खेल शुरु होता है। इसका ताजा उदाहरण बड़ागांव प्रकरण यहां एक युवक विदेशी हसीना के चक्कर में पड़ा और उसे 46 हजार गंवाना पड़ा। ये वहीं विदेशी महिलाएं है शहर के ज्यादातर युवाओं और अधेड़ उम्र के फेसबुक एकाउंट में जुड़ी हैं और उन्हें देखा जा सकता है। इसका प्रत्यक्ष प्रमाण भी हैं। खबर इस लिए जरूरी है कि युवा या अधेड़ उम्र के लोग इस चेहरे को पहचान ले और अगर इनके फेसबुक एकाउंट में ये चेहरे हैं तो तुरंत उसे अनफ्रेंड करें। 


पहले उलझाती हैं, फिर प्यार में फंसाती हैं
एक या दो सप्ताह तक ये अपनी बातों में उलझाती हैं। सामने वाले को अपनी जद में लेने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ती। इसके लिए वह अंतरंग मैसेज के आदन प्रदान से भी परहेज नहीं करती। बात अपने शहर वाराणसी की करें तो ठगी के शिकार कुछ युवाओं ने इन चेहरों को पहचाना और जानकारी दी।


यहां से शुरु होता है खेल
पहले तो ये दोस्ती को मजबूत रिश्ते देने के विश्वास में लेती हैं। फिर एक दूसरे के प्रोफेशन को पूछती हैं। खुद को सिंगल बताती है और बीच-बीच में शादी या शारीरिक संबन्ध की बात कह आकर्षित करती हैं। ये काम एक से दो सप्ताह के बीच ही चलता है। इसके बाद पक्की दोस्ती में उपहार देने के बाद शुरु होती है। महिला सामने वाले से कहती है आप के लिए महंगा पार्सल भेज रही हूं। बाद में कस्टम विभाग द्वारा पार्सल पकड़े जाने की बात कह पैसा मांगती है। वहीं दूसरा फंडा सामने वाले को भारत आने और मिलने की बात कह कर फर्जी टिकट और दिल्ली का लोकेशन भेजती हैं ताकि विश्वास में ले सके। इसके बाद खुद को एयरपोर्ट पर खुद को पकड़े जाने और जुर्माना देकर छुड़ाने की बात कह एकाउंट में पैसा सेंड कराती हैं। 



ज्यादातर फेसबुक एकाउंट में दोनो महिलाएं
ठगी करने वाली ये दोनों विदेशी महिलाएं वाराणसी में फेसबुक चलाने वाले ज्यादातर युवाओं, अधेड़ की फ्रेंड लिस्ट में हैं। ठगी का शिकार बनाने के बाद ये सामने वालों को ब्लॉक कर देती हैं। जो पीड़ित है शर्म या समाजिक प्रतिष्ठा जाने की वहज से रपट दर्ज नहीं कराते, लेकिन सतर्क रहने से इस ठगी से बचा जा सकता है।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल