सीएम योगी ने फिल्‍म सिटी के बाद यूपी को दी एक और सौगात, लंदन की मशहूर कंपनी करेगी रिवाल्वर का निर्माण

यूपी में ब्रिटेन की ‘वेबली एंड स्कॉट कंपनी’ करेगी रिवॉल्वर का निर्माण


 
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर यूपी में बनने जा रही फिल्म सिटी में फिल्में बनने के साथ ही राजधानी लखनऊ से सटे ऐतिहासिक कस्बा संडीला में दुनिया की नामी-गिरामी लंदन की मशहूर वेबले एंड स्कॉट रिवाल्वर अब बनेगी।वेबले एंड स्कॉट यूपी के संडीला जनपद हरदोई में फैक्ट्री लगा रही है। कम्पनी नवंबर से रिवाल्वरों का उत्पादन भी शुरु कर देगी। ब्रिटिश कंपनी ने लखनऊ की सियाल मैन्युफैक्चरिंग कंपनी के साथ करार किया।पहले चरण में कम्पनी 32 एमएम का रिवाल्वर बनाएगी।


यह कम्पनी विश्व युद्ध के समय गठबंधन सेना को हथियार देती थी। सण्डीला वाला लड्डू के लिए पहले से मशहूर संडीला की अब संडीला वाला रिवाल्वर से भी पहचान होगी। यूपी सरकार ने हरदोई के संडीला में ब्रिटेन की मशहूर वेबलें एंड स्कॉट कंपनी के साथ रिवाल्वर बनाने का समझौता किया है। जिसके तहत नवंबर से वेबले स्कॉट कंपनी रिवाल्वर बनाने का काम शुरू कर देगी।वेबले एंड स्कॉट रिवाल्वर बनाने वाली लंदन की यह कंपनी दुनिया की नामी-गिरामी आयुध कंपनी में से एक हैं।ब्रिटिश कंपनी ने लखनऊ की सियाल मैन्युफैक्चरिंग कंपनी के साथ रिवाल्वर बनाने का करार किया है। संडीला में फैक्ट्री पहले चरण में 32 एमएम का कम्पनी रिवाल्वर बनाएगी। वेबले एंड स्कॉट कंपनी के इंग्लैंड से 15 विशेषज्ञों की टीम संडीला जाएगी। बताया जा रहा है कि प्वाइंट 32 एमएम की रिवाल्वर की कीमत एक लाख साठ हजार रखी जाएगी। कंपनी दूसरे चरण में शॉट गन और गोला-बारूद भी बनाने का काम करेगी।


यह देश में हथियार बनाने वाली पहली विदेशी कम्पनी होगी। कम्पनी लखनऊ से लगभग 50 किलोमीटर दूर हरदोई के संडीला में अपनी विनिर्माण इकाई स्थापित कर रही है। इस कम्पनी ने दूसरे विश्व युद्ध के दौरान मित्र देशों की सेना को हथियार दिए थे। यह कम्पनी लगभग 15 देशों में हथियारों का उत्पादन कर रही है। वीली एंड स्कॉट कंपनी के सह-आॅनर,जॉन ब्राइट ने कहा कि इसके बाद हम पिस्तौल, एयरगन, शॉटगन और कारतूस भी बनाएंगे। उन्होंने कहा कि बाजार की बड़ी संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए हमने भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में निवेश करने का फैसला किया है। हमने 2018 में सियाल परिवार के साथ मिलकर कारोबार का विस्तार करने का फैसला किया। हमें 2019 में भारत में हथियार बनाने का लाइसेंस मिला। पहले चरण में 1899 मार्क4.32 पिस्तौल के मूल डिजाइन की मांग को पूरा करने के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भारतीय बाजार की संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए उन्होंने उत्तर प्रदेश में निवेश करने का फैसला किया है। ब्राइट ने कहा कि भारतीय बाजार के लिए हथियारों और एयरगन को संयुक्त रूप से उत्पादित किया जाएगा। इस संबंध में 15 विशेषज्ञों का एक दल इंग्लैंड से भारत आया और संडीला का दौरा किया।


जानकारों का मानना है कि लखनऊ में विगत वर्ष अक्टूबर को हुई इन्वेस्टर समिट के परिणाम अब दिखने लगे हैं और आने वाले समय में और भी कई विदेशी कंपनियां लखनऊ एवं उसके आसपास में आकर व्यापार को बढ़ावा देंगीं।जिससे देश की आर्थिक स्थिति और सुदृढ़ होगी।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल