ग्रामीण स्वास्थ सेवाओं व मनरेगा भुगतान को लेकर हुआ चर्चा, बीडीओ को सौंपा पांच सूत्रीय मांग पत्र


जनसंदेश न्यूज़
वाराणसी। ग्राम्या संस्थान एवं महिला स्वास्थ्य अधिकार मंच के संयुक्त तत्वाधान में गुरुवार को स्थानीय ब्लॉक सभागार में हेल्थ वाच फोरम की बैठक संपन्न हुई। बैठक में ग्राम स्वास्थ्य पोषण दिवस पर मिलने वाली स्वास्थ्य सेवाओं एवं मनरेगा के अन्तर्गत समय से भुगतान के बाबत चर्चा हुई। कार्यक्रम के अंत में महिलाओं ने बीडीओ को पांच सूत्रीय मांगों से संबंधित मांग पत्र सौंपा। जिसपर बीडीओ द्वारा विचार किये जाने की बात कही गई। 
इस अवसर पर खण्ड विकास अधिकारी सुदामा प्रसाद यादव ने कहा कि सभी ग्राम पंचायतों में मनरेगा में लोगों को पर्याप्त काम है जो लोग काम के इच्छुक हैं काम कर सकते हैं और उसका भुगतान भी समय से किया जा रहा है। कुछ तकनीकी खामियों की वजह से कभी कभी भुगतान में देर हो जा रही है, लेकिन ऐसी सभी कमियों को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। 
उन्होंने कहा कि सरकार के शासनादेश के अनुसार स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को भी मनरेगा में मेठ बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके पश्चात मंच की प्यारी, रामरति आदि लोगों ने कहा कि ग्राम स्वास्थ्य पोषण दिवस में जरूरी सेवाएं नहीं मिल पा रही है। सुविधाओं के अभाव में महिलाओं की पेशाब जांच, खून जांच, पेट जांच आदि सुरक्षित तरीके से नहीं हो पा रहा है। जिस पर बीसीपीएम जयप्रकाश ने कहा कि वीएचएनडी के दौरान कुछ कमियां निकल कर आ रही है जिसे दूर करने का प्रयास किया जा रहा है।
वही बाल विकास परियोजना अधिकारी माधुरी ने सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को चेताया कि वीएचएनडी के दौरान हर हाल में आंगनबाड़ी कार्यकत्री की उपस्थिति सेण्टर पर होनी ही चाहिए। किसी गांव से अनुपस्थिति की सूचना मिलती है तो तत्काल कार्यकत्री पर कार्यवाही की जाएगी। 



ग्राम्या संस्थान की निदेशक बिन्दु सिंह ने बताया कि क्षेत्र में जो भी स्वास्थ्य, मनरेगा, पोषण आदि में समस्याएं आ रही हैं, ऐसी समस्याओं को हल करने के लिए महिला स्वास्थ्य अधिकार मंच व हेल्थ वाच फोरम कार्य कर रहा है। हमारी कोशिश है कि इसके जिम्मेदार सभी विभागों से लोग आएं और एक साथ बैठकर समस्याओं को हल करने में सहयोग दें। 
बैठक के अन्त में मंच की महिलाओं द्वारा विभिन्न मांगों से संबंधित मांग पत्र खण्ड विकास अधिकारी को सौंपा गया। जिसके तहत ग्राम पंचायत अमदहां, चरनपुर, गोलाबाद सहित अन्य पंचायतों में मनरेगा में कराए गए कार्य का शीघ्र भुगतान कराया जाने, सभी ग्राम पंचायतों में मनरेगा कार्य स्थल पर मस्टर रोल एवं जॉब कार्ड पर मजदूर का हस्ताक्षर, उपस्थिति नियमित दर्ज कराये जाने, सभी ग्राम पंचायतों में मनरेगा श्रमिकों को काम उपलब्ध कराये जाने एवं काम का समय से भुगतान हो नियमित सभी स्वयं सहायता समूहों का सही तरीके से क्रियान्वयन होने के साथ ही स्वयं सहायता समूह की सक्रिय एवं लीडर महिलाओं को महिला मेठ के रूप में चयन किये जाने की मांग की गई।
ग्राम स्वास्थ्य पोषण दिवस पर महिलाओं का नियमित पेशाब, खून, पेट की जांच एवं बीपी जांच आदि की सुविधा समुचित तरीके से उपलब्ध कराई जाए। जननी सुरक्षा योजना का पैसा सभी लाभार्थियों के खाते में समय से दिया जाए। वी0एच0एनपडी0 में परिवार नियोजन के साधन की उपलब्धता स्थल पर कराई जाए। इस दौरान संगीता जमुना, मराछी, रामरति, हीरावती, मुन्नी, देवी, रेखा, विद्यावती, लक्ष्मीना, सुषमा, सहित आशा, आंगनबाड़ी ए0एन0एम0 शामिल रहीं। कार्यक्रम का संचालन नीतू ने किया।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल