चुनौतियों से जूझेंगे भावी मास्टर साहब, लॉकडाउन के कारण ना ठहरने की सुविधा ना खाने की सुध


जनसंदेश न्यूज
वाराणसी। कोरोना संकट बीच रविवार को होने वाले बीएड प्रवेश परीक्षा के लिए विभिन्न शहरों के परीक्षार्थी शनिवार सुबह से ही बनारस पहुंचने लगे। उधर इस परीक्षा के लिये शहर तक पहुंचने में उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। राज्य सरकार द्वारा पूरे प्रदेश में शनिवार और रविवार को वीकेंड लॉकडाउन लागू किया गया है। जिसके कारण वाहनों का आवागमन पूरी तरह से ठप है। जिससे परीक्षार्थियों और उनके अभिभावको को काफी दिक्कतों से जूझना पड़ रहा है। शहर में आने के बाद ना खाने की सुविधा और ना ठहरने की सुविधा, ऐसे में परीक्षार्थी इधर-उधर घूमते परेशान दिखे।



बता दें कि बीएड प्रदेश परीक्षा यूपी के 73 शहरो में रविवार को आयोजित की जा रही है। रेलवे व रोडवेज स्टेशनों पर उतरने के बाद परीक्षार्थी पैदल ही अपने सेंटरों को तलाशते दिखे। उधर लॉकडाउन के कारण दुकानें बंद होने से खाने और शौचालय की की व्यवस्था तक का अभाव दिखा। रात में ठहरने के लिए व्यवस्था का अभाव, उपर से यातातात का भी कोई इंतजाम नहीं दिखा।



भारी संख्या में है आवेदन कर्ता 
जानकारी के मुताबिक बनारस में 104 केंद्रों पर 39 हजार 177 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। जिसके लिए तैयारियां भी पूरी की जा चुकी है। जहां सेंटरों को पूरी तरह से सेनेटाइज किया जा चुका है। वहीं, छात्रों को मास्क और सेनेटाइजर साथ लेकर आने को कहा गया है। कोरोना संकट के कारण करीब पांच महीने बाद कोई परीक्षा हो रही है। जिसको लेकर छात्रों में भय और दहशत का भी माहौल है।



बीएचयू में बीएड सेंटरों की हुई सफाई
बीएचयू के विभिन्न संकायों में बने सेंटरों पर सेनेटाइजेशन किया गया। कई महीनों से बंद कक्षाओं को ठीक से साफ-सुथरा किया गया। इसके बाद पूरे कक्ष सहित दरवाजों, सीढ़ी और हर उस स्थान को सेनेटाइज किया जा रहा है, जहां-जहां से अभ्यर्थियों को गुजरना है।



क्या कहते है जिम्मेदार अधिकारी
डीएम कौशल राज शर्मा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि परिक्षार्थियों के आवागमन की सुविधा के लिए टेम्पो, टैक्सी, ओला, उबर समेत रोडवेज की बसें यथावत चलेंगी। बस अड्डों पर रोडवेज की अतिरिक्त बसों का भी प्रबंध किया गया है। परीक्षा केंद्रों के निकट जलपान की छोटी दुकानों को खोलने की इजाजत दी गयी है।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल