रिपोर्ट आने के 24 घंटे बाद भी चकिया तहसील के इस गांव में ही है कोरोना पॉजीटिव मरीज, गांव में भय का माहौल


गाँव में पहुंचे मनरेगा डीसी व एडीओ पंचायत


गांव को पूरी तरह से किया गया सील


युवक के संपर्क में आने वाले लोगों की होगी जांच


घर से बाहर निकलने पर रोक, आवश्यक सामानों की होगी होम डिलेवरी

जनसंदेश न्यूज़
शहाबगंज/चंदौली। लोग भले ही बेफिक्र होकर अपने काम धंधे में लग गए हैं, लेकिन कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में हो रही वृद्धि से क्षेत्र के लोग भयभीत हैं। प्रवासी मजदूरों के क्षेत्र में आने के बाद लगातार कोरोना पॉजीटिव की संख्या में इजाफा होता दिख रहा है। पिछले दिनों सारिंगपुर, जेंगुरी, भैंसासुर व मनकपड़ा में मिले कोरोना पॉजीटिव मरीज ठीक भी नहीं हुए कि ग्राम पंचायत केरायगांव में कोरोना पॉजीटिव मरीज मिलने से क्षेत्र के लोगों में भय व्याप्त हो गया है। 
22 वर्षीय युवक 18 जून को गुजरात से ट्रेन द्वारा वाराणसी आया और थर्मल स्क्रीनिंग कराने के बाद मोटरसाइकिल से गांव आया। सोमवार को रिपोर्ट पॉजीटिव आया तो हड़कंप मच गया। हालांकि कोरोना पॉजीटिव रिपोर्ट आने के 24 घण्टे बाद भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा चिकित्सालय नहीं ले जाने से ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है। 
सूत्रों की माने तो वाराणसी स्थित कोरोना चिकित्सालय में बेड खाली नहीं है। थाना प्रभारी अवनीश कुमार राय ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग जल्द ही कोरोना संक्रमित मरीज को अस्पताल ले जाएगी। कोरोना संक्रमित मिलने के बाद मंगलवार को गांव में अधिकारियों का जमावड़ा लग गया। गांव में पहुंचे मनरेगा डीसी व खण्ड विकास अधिकारी धर्मजीत सिंह व एडीओ पंचायत अखिलेश तिवारी ने गांव को पूरी तरह से सील करने का निर्देश दिया। साथ ही गांव के लोगों को घर से बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगा दिया। अब गांव में खाद्य सामानों की होम डिलीवरी की जाएगी। 
जिसके लिए दुकानदार चिन्हित किए गए हैं साथ ही सफाईकर्मी भी खाद्य सामग्री लोगों के घर पहुंचाने के लिए लगाए गए हैं। बाहरी लोगों के किसी भी कीमत पर गांव में घुसने पर रोक है। युवक के सम्पर्क में आए सभी लोगों को कोरन्टाईन सेंटर भेजा जाएगा। गांव को पूरी तरह से हॉटस्पॉट घोषित किया गया तथा गांव के सभी रास्तों को बॉस-बल्ली लगाकर बंद कर दिया गया है। गांव में सफाई कर्मियों की तीन टीम बनाई गई है। प्रथम टीम गांव की सफाई करेगी, दूसरी टीम गांव को सेनेटाइज करेगी तथा तीसरी टीम ग्रामीणों को आवश्यक सामानों की होम डिलेवरी करेगी। इस दौरान ग्राम विकास अधिकारी मुरली श्याम, अयूब खां, जैनेन्द्र राव, अनिल पटेल आदि लोग उपस्थित थे।


 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल