कोरोना संक्रमितों की इलाज कर हरे डाक्टरों के 25 सदस्यीय टीम की रिपोर्ट आई निगेटिव, खुशी-खुशी हुए घर रवाना



जनसंदेश न्यूज़
ग़ाज़ीपुर। कोरोना महामारी को लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुहम्मदाबाद को लेबल वन हॉस्पिटल में तब्दील कर दिया गया था। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की इलाज के लिए 25 स्टाफ की नियुक्ति की गई थी। जनपद में प्रथम पांच आए पॉजिटिव मरीजों को इसी अस्पताल में कई दिनों तक रखा गया था। जिसका इलाज यहां के स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा किया गया था। हालांकि शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन ने पांचों मरीजों को वाराणसी शिफ्ट करा दिया था।
वाराणसी में इलाज के दौरान सभी पांचों मरीज की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कोरोना वायरस के खतरे को लेकर मुहम्दाबाद हॉस्पिटल में कार्यरत सभी 25 स्टाफ की जांच वाराणसी भेजी थी। सोमवार की शाम इन सभी लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मोहम्मदाबाद के प्रभारी डॉ आशीष राय ने बताया कि रिपोर्ट निगेटिव आने के पश्चात सभी कर्मियों में खुशी की लहर देखने को मिली और अब सभी स्टाफ अपने अपने घरों को रवाना हो गए हैं।


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

लाइनमैन की खुबसूरत बीबी को भगा ले गया जेई, शिकायत के बाद से ही आ रहे है धमकी भरे फोन

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार